Friday, September 2, 2011

जिसको मैने दोस्त बनाया



जिसको मैने दोस्त बनाया 
कभी ना उस से हाथ छुड़ाया
चाहे वो जैसा हो....
शर्मिला हो या तीखा हो
खारा हो या मीठा हो...
सबको मैने गले लगाया
कभी ना उन से हाथ छुड़ाया
दोस्त ही मेरा जीवन हैं
भर देते वो  खुशिया हैं
वो बिना कहे सब जान जाते हैं
और रिश्ते हैं कि फर्ज़ निभाते हैं
रिश्ते मिलते प्रभु से हमको
दोस्त खुद से चुनते हैं......
जब भी  थामो किसी दोस्त का हाथ
दे दो उसको अपना आप..
दुनिया मे सब मिल जाता हैं
सच्चा दोस्त जीवन मे 
कभी कभी ही हाथ आता हैं

 ·  · Share · Delete

    • Asha Pandey Ojha Asha bahut sundar yahi sachchee dosti hai dost
      August 29 at 4:26pm ·  ·  2 people

    • Govind Gopal Vaishnava ऐसी वाणी बोलिए , मन का आपा खोय...
      अपना तन शीतल करे, औरों को सुख होए ...आपका हार्दिक आभार एवं धन्यवाद

      August 29 at 4:26pm ·  ·  2 people

    • Aparna Khare Bahut bahut abhaar Asha ji
      August 29 at 4:27pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare Abhaar to apka Goving ji
      August 29 at 4:28pm ·  ·  1 person

    • Amit Gaur thnx Aparna , same to you.
      August 29 at 4:50pm ·  ·  1 person

    • Manoj Kumar Bhattoa wah ! bahut khoob ..........dosti assi hi honi chahiye...
      August 29 at 4:59pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare thanks Manoj Kumar Bhattoa ji
      August 29 at 4:59pm ·  ·  1 person

    • Gaurav Sharma thanks hume dost banane ke liye
      August 29 at 5:47pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare MOST WELCOME gAURAV JI
      August 29 at 5:48pm · 

    • दिनेश मिश्र very true....well said.........!!
      August 29 at 6:21pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare thanks Dinesh ji
      August 29 at 6:23pm · 

    • Very nice
      August 29 at 6:33pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare thanks Rakhshan ji
      August 29 at 6:33pm · 

    • Parveen Kathuria रिश्ते मिलते प्रभु से हमको
      दोस्त खुद से चुनते हैं......sahi kaha aapne

      August 29 at 8:58pm ·  ·  2 people

    • Anil Ayaan Shrivastava 
      दोस्त ही मेरा जीवन हैं
      भर देते वो खुशिया हैं
      वो बिना कहे सब जान जाते हैं
      और रिश्ते हैं कि फर्ज़ निभाते हैं
      रिश्ते मिलते प्रभु से हमको
      दोस्त खुद से चुनते हैं......
      जब भी थामो किसी दोस्त का हाथ
      दे दो उसको अपना आप..
      दुनिया मे सब मिल जाता हैं
      सच्चा दोस्त जीवन मे
      कभी कभी ही हाथ आता हैं
      bahut achchi bat hai deepti.... I proud of u dear...swt friend....

      August 29 at 9:43pm ·  ·  2 people

    • बहुत अच्छे विचार हैँ।तस्वीर मेँ दो लड़कियाँ ही हैँ ना?
      सच्ची दोस्ती दो लड़कियोँ या दो लड़कोँ के बीच ही हो सकती है।
      आज के युग के पाशचात्य(western) गंदे विचारोँ को परे रख कर!!

      August 29 at 11:02pm ·  ·  1 person

    • Chitra Rathore Aparna Ji...bahut achchi cmpstn...sach hai...dosti...achchaa..buraaa...unch...neech ...nhi dekhtee aur...sabko ekrang...kar detee hai...jitnaa aap is rishtey ko jeetey ho...utnaa hi...ye mazboot aur...sachchaa hotaa jaataa hai...
      August 29 at 11:14pm ·  ·  2 people

    • Ashish Khedikar Very Nice Aparna JI..

      रिश्ते मिलते प्रभु से हमको
      दोस्त खुद से चुनते हैं......

      August 29 at 11:22pm ·  ·  1 person

    • Meenu Kathuria दुनिया मे सब मिल जाता हैं
      सच्चा दोस्त जीवन मे
      कभी कभी ही हाथ आता हैं........एक सच्चे दोस्त की तालाश हर पल रहती है ......वो किस्मत से ही मिलता है............

      August 29 at 11:37pm ·  ·  1 person

    • Gopal Krishna Shukla वाह अपर्णा जी.... बहुत सुन्दर व्याख्या की है दोस्त की....
      August 29 at 11:41pm ·  ·  1 person

    • Rajani Bhardwaj सच्चा दोस्त जीवन मे

      कभी कभी ही हाथ आता हैं................... sach h ye nitant

      August 29 at 11:45pm ·  ·  1 person

    • Rajiv Jayaswal सच्चा दोस्त भी किस्मत से ही मिलता है|
      Tuesday at 12:03am ·  ·  1 person

    • Bahut khooob
      Tuesday at 3:45am ·  ·  1 person

    • Aparna Khare thanks Rashal Hareem ji
      Tuesday at 12:57pm · 

    • Aparna Khare THanks Rajiv Jayaswal ji
      Tuesday at 12:58pm · 

    • Aparna Khare Thanks Rajani Bhardwaj ji
      Tuesday at 12:58pm · 

    • Aparna Khare THanks Gopal Krishna Shukla ji
      Tuesday at 12:58pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare Meenu Kathuria Bhabhi thanks
      Tuesday at 12:59pm · 

    • Rakesh Kumar Srivastava very good
      Wednesday at 11:05pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare Pratul uncle pls join the sanket...hame apki bahut jarurat hain
      Yesterday at 1:15pm ·  ·  1 person

    • Pratul Misra हाल " दिल " झोपडियों से पूछो ,,
      " आँसूं " बन " बारिश " छप्परों " से " टपकती " है ,,,,,,,

      Yesterday at 1:24pm ·  ·  1 person

    • Aparna Khare हमे पता हैं शहर की बारीशो का हाल
      क्या करे ग़रीबो का...जिनके घर मे छत ही नही होती

      Yesterday at 1:26pm · 

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home