Tuesday, November 8, 2011

देता हैं हमे रोज़ वॉर्निंग





देता हैं हमे रोज़ वॉर्निंग
हम तो समझ ना पाते
बन कर रहते बुद्धू जग मे
मन को यू भरमाते
पहली वॉर्निंग तब हैं आई
जब पड़ने लगा कम दिखाई
तुरंत करवाया ऑपरेशन
बन बैठे फिर से जेनटिल मैन
दिया मॅन को पहला धोखा
दिखने लगा चोखा चोखा


दूसरी वॉर्निंग तब हैं आई
जब मुख से ना खाया जाए भाई
झट गिरा दाँत मुख से सारे
नई बत्तीसी मँगवाई
फिर दिया मॅन को दूसरा धोखा
खाए मॅन से बाटी चोखा
तीसरी वॉर्निंग तब हैं आई
जब चला ना जाए एक कदम भी
किया इलाज़ ढेर पैरो का
पर कमर भी अब तो झुक झुक जाए
अब तो क्या कर सकते हैं भाई


चौथी वॉर्निंग पे तो 
यादस्त  ने साथ हैं छोड़ा
अब क्या करे मूढ़ मॅन मोरा
आख़िरी वॉर्निंग पे तो सीमा ही पार हो गई
चल दिए छोड़ हमे सब साथी
तब लगा ये जाएँगे 
हमको मौत ना आती
अब भगवान भी क्या करते
झट से मौत बुला बैठे
मनुज बोला पहले तो बता देते


भगवान बोले दी थी मैने पाँच वॉर्निंग
कम से कम एक ही समझ लेते
अब तो तुम्हारी बारी आई
ले लो सबसे माफी
चले चलो अब देश अपने
ना करो कोई गुस्ताख़ी
हम भी सारी वॉर्निंग याद रखे 
करे काम सब अच्छे
यमराज जो लेने आए
चल पड़े साथ खुश होके

    • Alam Khursheed वाआआआआआआआआआह !
      November 9 at 1:38pm ·  ·  1
    • Aparna Khare Shukriya Alam ji
      November 9 at 1:41pm ·  ·  1
    • Rajiv Jayaswal Agar hum us ki warnings ko nazar andaz na karein, to akhari samay pachtana na pade.
      November 9 at 1:59pm ·  ·  1
    • Aparna Khare sahi kaha Rajiv ji
      November 9 at 2:01pm ·  ·  1
    • Maya Mrig भिन्‍न तरीके से लिखी गई कविता.... अध्‍यात्‍म और दर्शन को आप ठीक से शब्‍दों में पिरो पाती हैं....
      November 9 at 4:16pm ·  ·  2
    • Aparna Khare Dil Se abhaar Maya Sir....
      November 9 at 4:18pm · 
    • Ashish Tandon बहुत खूब है अपर्णा जी आपकी वार्निंग ...
      November 9 at 4:23pm ·  ·  1
    • Aparna Khare thanks Ashish ji
      November 9 at 5:08pm ·  ·  1
    • Kiran Arya Aparna Khare waaaaaaaaah mitr bahut achche se manav charitr ko darshaya hai, jisne yeh jaan liya vo tar gaya aur jo isse raha begana vo bemaut mar gaya...............:))
      November 9 at 5:56pm ·  ·  1
    • Aparna Khare sach hain kiran
      November 9 at 5:57pm ·  ·  1
    • Kiran Arya Aparna mitr mujhe tumhari lekhni hamesha isiliye bhi bahut aakarshit karti hai kyuki isme aadhyatam aur darshan dono ka hi samavesh hota hai............aise hi lkhti raho mitr...............aur sote hue logo ka jagane ka prayaas karti raho.............:))
      November 9 at 6:02pm ·  ·  1
    • Aparna Khare ha kiran prayas to hamara bhi yahi hai but kaha tak saphal hota hain keh nahi sakte
      November 9 at 6:04pm ·  ·  2
    • Prateek Shesh ACHHA HAI
      November 9 at 6:05pm ·  ·  2
    • Aparna Khare prateek ke liye...Gaurav ki kavita...अब साथ भी उनका रहे या न रहे
      चलना है मुझे वो चले या न चले
      पूछो अभी उससे बहारों का पता
      यूँ रू-ब-रू फिर वो रहे या न रहे
      तुम आज जी भर के सीसकने दो मुझे
      कल क्या पता ये ग़म रहे या न रहे
      हम तो कहेंगे जो भी कहना हैं हम
      उसकी है मरज़ी वो सुने या न सुने
      मुझे मेरी बस राह आ जाए नज़र
      ये रात चाहे फिर ढले या न ढले
      है ज़िंदगी का अर्थ ही चलना
      राह मिल गई मंज़िल मिले या न मिले
      November 9 at 6:06pm ·  ·  2
    • Prateek Shesh ‎???
      November 9 at 6:11pm · 
    • Rajani Bhardwaj combination of pics and words amezing..............
      November 9 at 6:14pm · 
    • Deepak Arora · Friends with Gunjan Agrawal and 4 others
      Main soch raha hoon,Aap darshnik hain ya dharmguru. Ye pudene ki chatni aur tomoto sause ka achha combination hai
      November 9 at 6:49pm · 
    • Shamim Farooqui Waah bahut khoob Aparna Khare
      November 9 at 7:10pm ·  ·  1
    • Naresh Matia badhiya warnings.... yeh warnings to sabko pahle hi pataa hoti hain......jo yehaa aaya hain..usne yahaa se jana hi hain...par fir bhi insaan ko kya farak padta hain...wo to aisa hi rahaa hain aur aisa hi rahegi...use warnings se koi farak nahi padta.....
      November 9 at 7:11pm · 
    • Raghvendra Awasthi pahli tomil gayee........waah !
      November 9 at 7:12pm · 
    • Gopal Krishna Shukla मनुष्य समझता सब है पर वह अपने पूरे जीवन को सिर्फ़ दिखावे में ही गुजार देता है... सुन्दर रचना अपर्णा जी
      November 9 at 8:13pm · 
    • Rajendra Goel acha ham is ko warning nahi bulawe ka patra samjh rahe the.
      November 9 at 9:54pm · 
    • Vishaal Charchchit वाह - वाह.............आज तो टीचर जी एकदम अलग ही अंदाज में दिखीं..............बधाई हो !!!
      November 9 at 11:07pm · 
    • Aparna Khare Thanks vishaal ye mera real andaz hai
      November 9 at 11:54pm ·  ·  1
    • Vishaal Charchchit AUR PHOTO ????
      November 9 at 11:55pm · 
    • Parveen Kathuria namaskaar.....Aparna ji
      November 10 at 12:25pm · 
    • Parveen Kathuria jeevan ki sachhayi ke darshn karwati hui aapki rachna...
      November 10 at 12:27pm ·  ·  1
    • Gunjan Agrawal hahahaha... soo nice gudd
      November 10 at 1:47pm ·  ·  1
    • Rahim Khan WOH WOH BAHUT NAYA SUBJECT CHUNA AAP NE...........ACHHA LAG PAD KAR
      November 11 at 9:35pm · 




0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home