Wednesday, December 12, 2012

अ, ब, स, द



"अ, ब, स, द" के चक्कर मे
जिंदगी हुई बर्बाद हैं
न तुमको कुछ याद हैं..
न हमको कुछ भी याद हैं
सारे वादे, यादे, कसमे..
सब हुए अब खाक हैं
हमको जो भूले वो तो
क्या करे अब बात हैं





0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home