Tuesday, March 12, 2013




हो गया हो प्यार तो क्या करे 
जिए या जीना छोड़ दे..

तेरी चाहत को जब से पहचान लिया उसने
अपना तुझे तबसे मान लिया उसने..

तेरा रंग उस से हैं
उसका रूप तुझसे हैं
वो संवरता हैं तेरे लिए..
तू सजता हैं उसके लिए..

प्यार का रंग एक होता हैं...
चेहरे बदल जाते हैं..
दिल मेरे तेरे जैसा
एक होता हैं..

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home