Tuesday, August 20, 2013

रक्षा बंधन की बहुत बहुत बधाई




कुछ कच्चा सा हैं कुछ पक्का सा हैं..
रंग ये देखो कैसा ..अलग सा हैं...
वक़्त के साथ पक जाएगा.....
सारी उम्र याद आएगा...धागा नही बंधन हैं ये..
ता उम्र साथ देने का वचन हैं ये...
ये हम सभी को निभाना होगा...
भैया तुम्हे हर राखी पे...बिन कहे आना होगा
                                                       (रक्षा बंधन की बहुत बहुत बधाई...
)

5 Comments:

At August 20, 2013 at 4:23 AM , Blogger शिवनाथ कुमार said...

भैया को तो जरुर आना चाहिए
लेकिन परिस्थितियाँ कभी कभी आने नहीं देती

फिर भी दूरियों से बंधन कभी कमजोर नहीं पड़ता
रक्षाबंधन की बधाई व शुभकामनाएँ !
सुन्दर रचना
सादर!

 
At August 20, 2013 at 6:04 AM , Blogger Rajendra kumar said...

बहुत सुन्दर,रक्षा बंधन की हार्दिक बधाइयाँ.

 
At August 21, 2013 at 6:41 AM , Blogger Tamasha-E-Zindagi said...

आपकी आज कि यह पोस्ट बुधवार, २१ अगस्त २०१३ के ब्लॉग बुलेटिन - राखी कि शुभकामनाओं पर प्रकाशित की जा रही है | हार्दिक बधाई |

 
At August 22, 2013 at 4:25 AM , Blogger Unknown said...

sach kaha apne..shukriya

 
At August 22, 2013 at 4:26 AM , Blogger Unknown said...

shukriya Tushaar ji...

 

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

<< Home