Monday, October 3, 2011

2 अक्तूबर पे विशेष


दौलत से बाग बना करते हैं
धन हो तो खवाब सज़ा करते हैं
ना हो धन तो खवाब, खवाब रह जाते हैं
आँखो मे पल कर ना जाने कहाँ खो जाते हैं
देश मे हैं इतनी ग़रीबी
कि लोग भूखे सोया करते हैं
नही हैं तन ढकने को कपड़ा
बेचारे यू ही जिया करते हैं
सुना हैं दे देते थे तन का वस्त्र
ग़रीबो को....
खुद आधी धोती मे जिया करते थे
देश मे गर हो जाए एक भी
गाँधी, कस्तूरबा
देश महान हुआ करते हैं


लाल बहादुर जी जो थे इतने ईमानदार
अपने निज़ी खर्च पे 
सब काम किया करते थे
नही लेते थे सरकारी सुविधा
जब अपने लिए जिया करते थे


तब और अब मे बहुत अंतर हैं
आज के नेता सरकारी धन  से 
जिंदगी जिया करते हैं
नही करते हैं अब कोई परहेज
जनता के पैसो को ..
अपना किया करते हैं....



    • Manoj Gupta आज है दो अक्टोबर का दिन
      आज का दिन है बड़ा महान
      आज के दिन दो फूल खिले हैं
      जिनसे महका हिन्दुस्तान

      नाम एक का बापू गाँधी
      और एक लाल बहादुर है
      एक का नारा अमन
      एक का
      जै जवान जै किसान
      जै जवान जै किसान

      बापू जिसने मानवता का
      दुनिया को संदेश दिया
      बागडोर भारत की सम्भालो
      नेहरू को आदेश दिया
      लाल बहादुर
      जिसने हमको गर्व से जीना सिखलाया
      सच पूच्छो तो गीता का
      अध्याय उसी ने दोहराया
      विश्वा शांति के हित में देखो
      इन वीरों ने दिए हैं प्राण
      जै जवान जै किसान
      जै जवान जै किसान
      October 3 at 2:58pm ·  ·  3 people
    • Ashish Tandon बहुत सुंदर अपर्णा जी ...जय हिंद ...वन्देमातरम
      October 3 at 3:53pm ·  ·  1 person
    • Aparna Khare vande matram..
      October 3 at 3:53pm ·  ·  1 person
    • Niranjana K Thakur Jai ho !
      October 3 at 4:39pm ·  ·  1 person
    • Chandra Vig अपर्णा बेटी , यथार्थ वर्णन किया है !
      कहाँ हैं ... कहाँ हैं .. कहाँ हैं ... जिन्हें नाज़ था हिंद पे वोह कहाँ हैं ! JANTA of our Country has to be determined and must remember the day to day atrocities being faced by them at the time of ELECTIONS.
      October 3 at 4:51pm ·  ·  1 person
    • Aparna Khare thanks Chandra uncle....ye virasat hain hamari..jinhe bhoolte ja rahe hain ham
      October 3 at 4:52pm ·  ·  1 person
    • Amit Gaur बहुत सुंदर अपर्णा जी ...जय हिंद !
      October 3 at 5:13pm ·  ·  1 person
    • Aparna Khare thanks Amit ji
      October 3 at 5:13pm · 
    • Kamlesh Kumar Shukla २ ओक्टुबर को आपकी लाइन बहुत सायायिक है ....
      October 3 at 5:38pm ·  ·  1 person
    • Aparna Khare thanks sir
      October 3 at 5:40pm ·  ·  1 person
    • Mutha Rakesh देश मे गर हो जाए एक भी

      गाँधी, कस्तूरबा

      देश महान हुआ करते हैं...aparna sachi baat sahi samay pr sahgi bhaav ....badhiya
      October 3 at 6:44pm ·  ·  1 person
    • Naresh Matia gandhi ji ...sabko ek sath lekar chale the...mai is baat ke liye unhe shat-2 naman karta hun....baki...Lal bahadur shastri ji ke liye yeh bilkul sahi likha hain...
      लाल बहादुर जी जो थे इतने ईमानदार
      अपने निज़ी खर्च पे सब काम किया करते थे
      नही लेते थे सरकारी सुविधा
      जब अपने लिए जिया करते थे
      ....isliye unki imaandaari ko shat-2 naman....
      October 3 at 7:17pm ·  ·  2 people
    • Parveen Kathuria आज के नेता सरकारी धन से
      जिंदगी जिया करते हैं
      नही करते हैं अब कोई परहेज
      जनता के पैसो को ..
      अपना किया करते हैं....
      aaj ke neta kya sabak lenge Lal bahadur shastri ji se.....
      October 3 at 7:23pm ·  ·  3 people
    • Gopal Krishna Shukla बहुत खूब अपर्णा जी....
      October 3 at 8:45pm ·  ·  2 people
    • Rajani Bhardwaj umda aparna ji.............
      October 3 at 11:16pm ·  ·  1 person
    • Poonam Matia sach kaha Aparna ..tab aur ab mei bada antar hai
      October 3 at 11:39pm ·  ·  2 people
    • किरण आर्य Aparna Khare..........bahut sahi baat kahi tumne dost..........
      October 5 at 10:03am · 


0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home