Tuesday, May 15, 2012


नदी, समंदर, पहाड़ जंगल
सब हैं हमारे देश मे
क्या हमने पूरा देश घूमा हैं?
क्या नही हैं अपने देश मे
तरसते हैं विदेश जाने के लिए
क्या हैं वहाँ सिवाय उँची इमारत के
क्या रखा है वहाँ?
सात्विक देश हैं हमारा
ऋषियों की तपोभूमि हैं
मिलती हैं हर खुशी यहाँ
यही हमारी देव भूमि हैं
विदेश मे भोजन के
नाम पे मिलता हैं हमे
छिपकली, मछली, मकड़ी, केकड़ा
जिसे शराब संग खाया जाता हैं
गर्व करे अपने देश पे
भारत वर्ष हमारा हैं
घूमे पूरा भारत
इसका कण कण हमे प्यारा हैं...जै हिंद

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home