Tuesday, May 22, 2012


 
आज कल मुझे मृत्यु बहुत भाती हैं
वो हमे परमात्मा के बहुत करीब लाती हैं
जब नही रहता कोई आकर्षण जीवन मे
तब परमात्मा तेरी याद आती हैं
उठा लो मुझे अब दुनिया से
अब हमे तेरी ये दुनिया
रास नही आती हैं....




0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home