Wednesday, October 10, 2012

वो फिर से अ जायेगा... —





चला गया जो हमें छोड़ कर
वो कैसे आयेगा?
प्यार का परचम अब कैसे लहराएगा..
थी उम्मीद मन में बाकि उसकी...कभी तो खुशिया लायेगा...
भूल गया जो अपनी सजनी को..

उसे आप क्या याद आयेगा...
सब कुछ अब भी मेरे पास हैं
वही हैं बाते, वही हैं राते...
दिन लेकिन बर्बाद हैं...
दिल घुटता हैं हरदम मेरा
क्या हरदम हमें रुलाएगा
या कर लू मजबूत कलेजा..
वो फिर से अ जायेगा...
 —

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home