Tuesday, March 13, 2018

प्यारे लाल वडाली जी

थम गई है आवाज़
लम्हे भी अब रुके रहेंगे
सुन सकेंगे रोज तुम्हे
लेकिन कभी देख न पाएंगे

वडाली जोड़ी बिछड़ गई
रूह तो उड़ गई
शरीर यही छोड़ गई
अप्पू

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home