Saturday, March 24, 2012

तुम्हे भी चैन आएगा


चांदनी आज भीगी भीगी सी है
हो न हो फिर भीगी है तेरी ऑंखें
किसी बात पर आशा..............(Asha Pandey Ojha ji ki lines)

चाँद ने ज़रूर कुछ कहा होगा
तुम्हारा दिल तो नही दुखाया
कोई पुराना किस्सा तो नही सुनाया
जिसे सुन कर तुम रो दिए
और भीग गया दामन तुम्हारा
अब अपने आँसू पोंछ डालो
अपना दामन सम्भालो
चलो हमारे साथ......
कुछ और बात करे....
क्यूँ खराब रात करे...
सुबह घर आएँगे...
सबको चाँद का किस्सा सुनाएँगे
उसकी बेवफ़ाई बताएँगे
कैसे तुमको रुलाया
कम्बक्त ने कितना सताया
तभी होगा फ़ैसला
तभी बढ़ेगा हौसला
फिर चैन आएगा...
सो सकूँगी सुकून से
तुम्हे भी चैन आएगा

2 Comments:

At March 25, 2012 at 9:55 AM , Blogger Ramaajay Sharma said...

Bahut sunder....chain aayega....

 
At March 27, 2012 at 9:31 AM , Blogger aparna khare said...

Shukriya Ramaajay ji..

 

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home