Thursday, November 7, 2013

ये दुनिआ अगर मिल भी जाये तो क्या हैं ?


आप  का हैं 
नसीब 
अच्छा
जो आपको
नई जान मिली
वरना 

आज तक 
तो
मुझे दुनिआ
बस 

बेजान मिली

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home