Friday, April 20, 2012

आँधियो ने बुझा दिए
चिराग तो क्या
दिल की रोशनी
तो अंदर हैं
मत टूटने दो हिम्मत
हर सवाल का
जवाब भीतर हैं
मंज़िलो भी सामने
नज़र आ ही जाएगी
अगर जुस्तजु
भीतर हैं..मत घबरा
ना ही कर बंद आँखे
तूफान के डर से..
तेरी जिंदगी की डगर...
तेरे ही दर से हैं........
भरोसा रख...

0 Comments:

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home